सबसे बड़ा सवाल, डायट में कौन देगा टेट की कोचिंग

By | September 17, 2017

सबसे बड़ा सवाल डायट में कौन देगा टेट की कोचिंग, विभागीय सियासत का भी शिकार होती है डायट डायट में देखे स्टाफ की स्थिति

सबसे बड़ा सवाल डायट में कौन देगा टेट की कोचिंग: हेलो दोस्तों आपको बता दे की उत्तर प्रदेश सरकार ने 1 सितम्बर 2017 से हर डायट पर निशुल्क कोचिंग देना तो शुरू कर कर दिया लेकिन समस्या ये हो रही है की डायट में कौन देगा टीईटी की कोचिंग, प्रवक्ता के सभी पद हैं रिक्त इसलिए सरकार ने सात सहायक अध्यापकों को अटैच कर दिया जा रहा और अभ्यर्थी को कचिन करवाई जा रही है

विभागीय सियासत का भी शिकार होती है डायट

डायट में अध्यापक की कमी से पहले ही काम प्रभावित होता है ऐसे में विभागीय सियासत भी शिकार होती है जो 7 अध्यापक के सहारे जैसे तैसे करके कोचिंग शुरू की है लेकिन फिर भी कई बार अटैच को बंद करने की तैयारी हो जाती है

आपको बता दे की शासन ने TET 2017 परीक्षा के लिए सभी अभ्यर्थी को निशुल्क कोचिंग देने के निर्देश है इसलिए डायट में प्रवक्ता और सहयक अध्यपक के सभी पद तो रिक्त है और वरिष्ट अध्यापक के 6 में से 5 पद रिक्त है इसलिए डायट पर कोचिंग देना चुनौती हो रहा है  इसलिए सरकार ने सात सहायक अध्यापकों को अटैच कर के कैसे करके कोचिंग दी जा रही है

Uttar Pradesh TET Exam Syllabus 2017 Uttar Pradesh Admit Card 2017
उत्तर प्रदेश के राजकीय इंटर कॉलेजों में आई बंपर 9,437 भर्तियां UPTET Online Application Form 2017
UPTET Answer Key 2017 Uttar Pradesh Result 2017
UPTET Latest News in Hindi Today उत्तर प्रदेश टेट की खबरे
UPTET की निशुल्क कोचिंग 1 सितम्बर से प्रदेश की हर डायट पर सबसे बड़ा सवाल, डायट में कौन देगा टेट की कोचिंग
उत्तर प्रदेश टेट परीक्षा 2017 की तैयारी कैसे करे
Badi Khabar dayt pr kon dega tet ki coaching

Badi Khabar dayt pr kon dega tet ki coaching

रायपुर डायट में स्टाफ

पद स्वीकृत पद रिक्त पद
उप प्राचार्य 01 01
वरिष्ठ प्रवक्ता 06 05
प्रवक्ता 07 07
संख्याकीकार 01 01
कार्यानुभव अध्यापक 01 01
प्रशासनिक अधिकारी 01 01
तकनीकी सहायक 01 01
पुस्तकलयाध्य्क्ष 01 01
लेखाकार 01 01
आशुलिपिक 01 01

प्रवक्ता की की है इसकी जानकारी शासन को कई बार दी कई बार अवगत कराया लेकिन फिर भी इसकी और कोई भी ध्यान नहीं दिया है बड़ी खबर ये है की पूरी जानकारी होते हुए भी सरकार ने कोई निर्णय नहीं लियाअब जाकर ये समस्या सामने आई तब जाकर सरकार की आँखे खुली है अब कोई रास्ता नहीं दिखा तो सहायक अध्यपक को कोचिंग देने के लिए खा गया है ऐसे में जो अध्यापक अटैच किये गए है ऐसे में डायट से लेकर प्रसाशन तक का काम ठप हो जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *